Monday, January 11, 2021

SEO KYA HAI SEO कैसे करते है - WHAT IS SEO IN HINDI

SEO KYA HAI SEO कैसे करते है Search Engine Optimization एक Process है जिसकी help से एक न्यू Blogger अपने Blog या Website को Rank करा सकता है उसमें Organically Traffic भेज सकता हैं SEO Blog के लिए क्यूँ जरुरी है? ये सवाल न्यू Bloggers को काफी परेशान करता है आज के इस digital generation में अगर आपको लोगों के सामने आना है तब Online वो एकमात्र  आसान जरिया है जहाँ आप एक साथ लाखो लोगों के सामने उपस्तिथ हो सकते हैं वो भी एक समय पर ये सभाव है तो सिर्फ ऑनलाइन के ज़रिए Digital marketing और internet world इस 3 words के “seo” के ऊपर निर्भर करती हैं बड़ी-बड़ी कंपनियां जो अपने Proudct और servies online बेचती है वह अपने लाखों रुपये सिर्फ seo पर ख़र्च करती है ताकि ज्याद से ज्यादा लोगो तक उनकी services पहुँच पाए और ओ ज्यादा से ज्यादा product sell कर पाए।


  

SEO KYA HAI SEO कैसे करते है - WHAT IS SEO IN HINDI

SEO क्या है और सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन कैसे करते हैं पूरी जानकारी हिंदी में अगर आपने भी इसका नाम बार-बार सुना है या कही लिखा हुआ पड़ा है या फिर आप internet और डिजिटल Marketing में नये है तो यह word आपको बार-बार सुने को मिलता है एसईओ आज के इस article में हम SEO किसे कहते हैं (What is SEO in Hindi) और SEO कैसे करे इस टॉपिक के बारे में जानकारी प्राप्त करेंगे आसा करता हु आपको इस पोस्ट से बहुत कुछ सीखने को मिलेगा जो आपके blog को successful बनाने में मदद करेगा।

Search Engine Optimization Tutorial For Beginners In Hindi 

आज हम आपको बिल्कुल simple तरीको में बताने वाले है। अगर आप इस Post को ध्यान से पढ़ ले तो आप आसानी से seo kya hai के बारे में जान जायगे इसलिए अगर आप blogging को लेकर serious हैं तब तो आपको SEO tutorial के विषय में जानकारी जरुर रखनी चाहिए. ऐसा करने से ये बाद में आपके बहुत काम में आने वाली हैं. एसईओ का वैसे कोई rule नहीं होते हैं बल्कि ये कुछ Google Algorithms के ऊपर आधारित हैं और वो निरंतर बदलता रहता है SEO की fullform Search engine Optimization है। जिसका सीधा संबंध search engine से होता है। seo एक प्रकार से search engine में अपनी website को Top पर लाने के Rules होते है ताकि हमारी website पर traffic increase हो सके। अगर आप इन Rules को follow करते है तो आपकी website search engine में first Page पर show होती है। Website को first Page पर लाना इसलिए जरूरी होता है क्योंकि अधिकतर लोगों first page पर आने वाली website पर ही visit करना पसंद करते है और इसके लिए हमे Seo को follow करना पड़ता है।

कोई भी कंपनी या व्यक्ति अपनी website इसलिए बनाता है ताकि वह अपनी service और Product बेच सके परन्तु अगर उसकी website पर traffic यानी लोग ही visit नही करते तो वह अपने product कैसे बेचेंगे। इसलिए हमें अपने वेबसाइट को first page पर लाने की लिए Search engine optimization करनी पड़ती है। जिसे हमारी website पर traffic increase हो।

Websites पर traffic increase होने से हमारी online earning बढ़ती है। साथ ही website की value search engine में increase हो जाती है जिसे website की Ranking बढ़ती है।

उदाहरण के लिए – Search engine optimization बिल्कुल traffic Rules की तरह होता है। जैसे traffic को सुचारू रूप से चलाने के लिए हमे Roadmap की आवश्यकता होती है ताकि लोगों को किसी समस्या का सामना न करना पड़े और वह जल्दी से अपना सही रास्ता चुनकर अपने Target तक पहुच सकते।

ठीक उसी प्रकार Seo भी एक search engine Traffic Rules है। ताकि जब कोई कुछ भी सर्च कर उसे जल्दी से सही जानकारी मिले। इसके लिए search engine का Roadmap होता है जिसे Seo (Search engine optimization) कहते है। 

Seo और traffic rules दोनों ही लोगो के लिए काम करते है। ताकि हमारी journey अच्छी रहे। जैसे अगर आप “what is seo” सर्च करते है लेकिन जो Result आते है वह किसी और चीज के बारे में है तो आपको बार-बार search करना पड़ेगा जिसका मतलब है कि आपकी journey और user experience ख़राब रहा।

इसलिए google search engine अपने user experience बढ़ने के लिए Seo factor का इस्तेमाल करता है ताकि उनके user को fastly और correctly information दे सके।

हर search engine के अपने seo factor होते है। आज के समय मे Google सबसे बड़ा search engine है जो पूरी दुनिया मे सबसे ज़्यादा इस्तेमाल किया जाता है। google लगभग 200 Seo factor पर काम करता है।

अगर आप Seo को एक लाइन में समझना चाहते है तो आप यह जान ले कि google वही content को पसंद करता है जिसे user पढ़ना पसन्द करते है। जिसे वह content अपने आप first page पर चला जाता है। और अगर पसंद नही करते तो धीरे- धीरे नीचे चला जाता है। यह google seo का सबसे important factor है।


Search Engine Optimization Tutorial in Hindi
S.E.O याफिर Search engine optimization ये एक ऐसा तकनीक है जिसकी मदद से हम आपने पोस्ट को गूगल सर्च इंजन में first पेला सकते है search engine क्या है जैसा कि सभी को पता है की Google पूरी दुनिया का सबसे बड़ा और populor सर्च इंजन है इसके इलावा भी Bing, Yahoo, जैसे और भी बेतहासा search engines मौजूद हैं S.E.O के help से हम आपने Blog को किसी भी सर्च इंजन में top पे लासक्ते है । जैसे मान लीजिए आप जब कभी google में जाकर कोई keyword type कर सर्च करते है तो उसे related जितने भी content होते है Google उन्हें आपके सामने दिखा देता है । ये content जो हमे नज़र आते हैं वो सभी अलग अलग website ब्लॉग से आते है । जो result हमे सबसे ऊपर दिखाई देता हैं वो Google में No.1 ranking पर है तभी वो सबसे ऊपर की तरफ अपनी जगह बनाए रखा है । यानीकी उस blog में seo का बहुत अच्छी तरीके से use किया गया है । 

Seo आपके ब्लॉग को Google में No.1 rank पे लाने के लिए help करता है ये एक technique है जो कि आपके blog याफिर website को Search engine के सर्च result-list मेंं सबसे ऊपर रख के उसमे visitors की संख्या को बढ़ाता हैं। 

अगर आपका वेबसाइट्स search result में सबसे ऊपर की तरफ होतो internet user सबसे पहले आपके साइट में ही जाएगा जिससे आपके साइट में ज्यादा से ज्यादा traffic आने की chance बढ़ जाती हैं और साथ ही साथ आपकी income भी अच्छी होने लगती हैं अपने site पे Organic traffic बढ़ाने के लिए S.E.O का इस्तेमाल करना काफी ज़रूरी हैं । 

seo full form in digital marketing - Seo का फुल फॉर्म क्या ? Seo का full form है - Search Engine Optimization हिंदी-"सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन" 

Blog का S.E.O करना क्यों जरूरी हैं

Seo Website या फिर blog के लिए क्यो ज़रूरी है आपने ये तो जान लिए की S.E.O क्या है चलिए अब जानते है कि ये blog के लिए इतना ज़रूरी क्यो हैं हम आपने Post को लोगो तक पहुँचाने के लि Seo का स्तेमाल करते है 
Tips Anish Free Blogging Course in Hindi फ्री ब्लॉगिंग कोर्स
मान लीजिए आपने एक वेबसाइट बनाया उसमे अच्छे content भी publish करदिये लेकिन अगर आपने SEO का इस्तेमाल नही किया तो आपका website लोगो तक नही पहुँचेगा और आपको website बनाने का आपको कोई benefit नही होगा । अगर SEO का use नही करेंगे तो जब भी कोई internet यूजर कोई भी Keyword search करेगा तो आपके website में उस keyword से जुड़ी अगर कोई content है तो user आपके website को access नही कर पायेगा ऐसा इसलिए है क्योंकि search engine हमारे website को खोज नही पायेगा ना ही हमारे website के content को आपने डेटाबेस में store कर पायेगा । जिससे आपके site पे traffic आना बहुत ही मुश्किल हो जाएगा । 

Web hosting - क्या हैं

SEO को understand करना इतना भी कोई मुश्किल काम नही है इसको Learn कर लिया तो आप अपने ब्लॉग को बहुत ही बेहतर बना सकते हैं और उसकी value Search Engine में बड़ा सकते है । 

Search Engine Optimization को सीखने के बाद जब आप इसको अपने ब्लॉग पे use करते है तोह आपको उसका result तुरंत नही दिखेगा इसके लिए आपको कुछ दिनों तक सब्र करना पड़ेगा । कहते है न सब्र का फल मीठा होता है और आपके मेहनत का फल ज़रूर मिलेगा 

जैसा कि पहले मैंने बात दिया है कि ranking और आर्गेनिक traffic आपने साइट या ब्लॉग पे लाने के लिए Seo का इस्तेमाल करते है । चलिए अब सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन के बारे में और जानते है । ज्यादा तर लोग search engine का इस्तेमाल आपने सवालो के जवाब पाने के लिए करते हैं। Internet user ऐसे में जो सर्च इंजन के टॉप रिजल्ट आते है user उसपे ज्यादा धेयान देता हैं और ज्यादा से ज्यादा चान्स रहता है कि यूजर आपके साइट पे visit करेगा । 

ऐसे में आप भी चाहते है लोगो तक पहुँचना तो आपको भी SEO की हेल्प लेनी पड़ेगी । क्यो की blog को no 1 ranking पे लाने के लिए seo Karnana बहुत ज़रूरी होता है । दरअस SEO केवल सर्च इंजन के लिए नही हैं बल्कि SEO प्रेक्टिक्स यूजर के अभाव को बड़ाने में help करता हैं । और साथ ही साथ आपके website के usability को भी बड़ाता हैं । Internet user ज्यादातर टॉप रिजल्ट को ही क्लिक करके visit करते है । इससे उस वेबसाइट की trust बड़ जाती है । इसलिए आपने website का SEO करना बहुत ज़रूरी हैं । 

SEO आपके site के सोशल promotion के लिए बहुत ही ज़रूरी होता हैं । क्योकि जो लोग आपके website को google जैसे सर्च इंजन में देखते है तब वो Social media जैसे प्लेटेफ्रोम पे साझा करते हैं जैसे कि Facebook Google plus,etc. 

SEO किसी भी site के traffic को बड़ाने में हेल्प करता है SEO आपको किसी भी competition में आगए बड़ने में मदद करता हैंe : अगर दो वेबसाइट सेम चीझ बेच रही है तब जो वेबसाइ SEO optimization होती है वो आपने तरफ ज्यादा से ज्यादा यूजर को खिंचती हैं जिसके तहत उस साइट का product ज्यादा से ज्यादा sale होती है और वेबसाइट के owner की Authority भी बड़ जाती है । 

SEO के प्रकार - Type of SEO हिंदी में

दरअसल SEO दो प्रकार के होते हैं एक हैं On-page-Seo और दूसरा हैं Off-Page-Seo इन दोनों का काम बिल्कुल अलग अलग हैं चलिए इनके बारे में भी बेह्तरीन से जानते हैं ।

On-Page-Seo-Guide

Off-Page-Seo-Guide

Local-Seo-Guide

On-Page-Seo ? इसका मतलब की आपने website को अच्छी तरह से design करना उसेMobile-Friendly बनाना. SEO Friendly contents लिखना उसमे अच्छे keywords का इस्तेमाल करना । जो Google Search Engine में ज़्यादा खोजि जाती हैंं । Keywords का इस्तेमाल पोस्ट मेंं सही जगह Karna - लाइक - Title, Meta Description, Content, में keyword का इस्तेमाल करना इससे गूगल को जानने में आसानी होती हैं की आपका content किसके ऊपर base हैं और जल्दि आपके website को Google rank कराता हैं जिससे आपके blog की ''traffic' increase" होती हैं । 

अब आपके मान मे एक सवाल उठ रहा होगा आखिर |on-page-seo-guide कैसे करते हैं । On-Page-Seo-Kaise करें 

यहाँ पर हम कुछ एसे तरीको के बारे में जांएगे जिनकी help से हम अपने website या Blog का सही तरीके से On Page Seo कर पाएं । 

Website speed - वेबसाइट की गति

वेबसाइट speed S.E.O के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण माना जाात हैं एक servey से यह पता चला हैं कि कोई भी visitor किसी website या ब्लॉग पे ज्यादा से ज्यादा 5 से 6 second ही रहता हैं । अगर आपका साइट इसी समय के अंतर्गत नही खुला तब वो विजिटर किसी और पेज को खोजने लगता है और आपके साइट से वापस लौट जाता हैं । और यही बात गूगल के लिए भी लागू होता है क्योकि अगर आपका ब्लॉग जल्दी से नही खुला तब google के पास एक Negative signal पहुँच जाता है जिससे गूगल समझ जाता है कि यह ब्लॉग उतना अच्छा नही हैं । जितना आपसे हो सके आप अपने website की स्पीड को अच्छा रखें । 

यहाँ मैंने कुछ बेह्तरीन टिप्स दिए है जिनके हेल्प से आप अपने वेबसाइट की गति को बड़ा सकते हैं "important Tips"

Simple और लुभा देने वाली theme का इस्तेमाल करे जितना होसके उतना काम Images का इस्तेमाल करें । IMG का साइज जितना हो सकें उतना काम रखे । W3 TotaCachehe और wp chachns का इस्तेमाल करे । 

वेबसाइट की Navigationअपने blog या website को simple रखे जिसे visitor और गूगल को एक पेज से दूसरे पेज में जाना आसान हो उन्हे कोई भी उझन ना हो । 

URL ka full form : Uniform Resource Locator 
Post का url कैसे लिखते हैं 
आपने पोस्ट का URL जितना होसके उतना simple और छोटा रखे । 
Title Tag 

आपने पोस्ट में title tag अच्छी तरह से लिखे जिससे कोई भी visitor उसे पढे तो जल्द से जल्द title पे click करे और आपके साइट पे आए और उसे पढे इससे आपका C.T.R भी बड़ेगा । 

How to make Good title

आपने post के title में 60 words से ज्यादा words को न इस्तेमाल करे क्यो की Google में 65 word's से ज्यादा वर्ड्स title tag में show नही करता हैं । Internal link आपने post को रैंक करने के लिए बेह्तरीन तरीका हैैैं इससे आप अपने related post को एक साथ interlinking कर सकते हैं इससे आप सभी पोस्ट को बहुत आसानी से rank करा सकते हैं । 

Alt tag 

आपने Blog पोस्ट में image का इस्तेमाल लाज़मी करे क्योकि इमेज के help से आप बहुत अच्छा traffic पासक्ते हैं आपने website के लिए image का इस्तेमाल करते वक़्त Alt tag लगाना न भूले । 

जैसा कि हम सभी को मालूम है कि heading content aur keywords content की ये बहुत ही महत्वपूर्ण होता है क्योकि कंटेंट को king भी कहाँ जाता हैं । और जितनी अच्छी आपकी कंटेंट होगी उतनी अच्छी.इसलिए काम से कम 750 words से ज्यादा words का content लिखें । आप कभी भी किसी दूसरे का content न चुराए न ही copy paste करेg : आपने आर्टिकल के heading का खाााश ख्याल rakhe क्योकी इससे S.E.O पर काफी प्रभाव पड़ता हैैैं और आपके पोस्ट का title आपका heading होता हैं उसके बाद के आsubheadingsng h2 h3 कहा सकते है इसके इलावा आप focus keywords का zaroor इस्तेमाल करे । 

ये थे कुछ point On Page Seo के I Hope आपको हमारी पोस्ट अच्छी लागि होगी । आपको हमारा पोस्ट अच्छा लगे तोह comment कर के ज़रूर बताए Anish Seo Course in hindi हिंदी में जानकारी: Technology Tips Anish Hindiटेक्नोलॉजी टिप्स अनीश

Search engine optimization (SEO

Search engine optimization (SEO) is the process of improving the quality and quantity of website traffic to a website or a web page from search engines.[1] SEO targets unpaid traffic (known as "natural" or "organic" results) rather than direct traffic or paid traffic. Unpaid traffic may originate from different kinds of searches, including image searchvideo searchacademic search,[2] news search, and industry-specific vertical search engines.

As an Internet marketing strategy, SEO considers how search engines work, the computer-programmed algorithms that dictate search engine behavior, what people search for, the actual search terms or keywords typed into search engines, and which search engines are preferred by their targeted audience. SEO is performed because a website will receive more visitors from a search engine when websites rank higher on the search engine results page (SERP). These visitors can then potentially be converted into customers.[3]

Disqus Comments